Neeraj Chopra Biography, Javelin Throw In Hindi

681
neeraj-chopra-javelin-throw-bhala-fek-athlete-biography-olympic-hindi
neeraj-chopra-javelin-throw-bhala-fek-athlete-biography-olympic-hindi

अभी खत्म हुए Tokyo Olympic 2021 में गोल्ड मेडल जीतने वाले भारत के पहले खिलाड़ी Chopra बन गए है। Javelin Throw (भाला फेंक) स्पर्धा में , इसके साथ ही वो एथलिट स्पर्धा में भारत के लिए गोल्ड जीतने वाले प्रथम खिलाड़ी बने हैं। और साथ ही नीरज ओलंपिक के व्यक्तिगत स्पर्धा में भारत के लिए गोल्ड जीतने वाले केवल दूसरे खिलाड़ी बने हैं। अभिनव बिंद्रा ने बीजिंग ओलंपिक 2008 के10 मीटर राइफल शूटिंग में भारत के लिए स्वर्ण पदक जीता था। आइये इनके जीवन के बारे में आपको विस्तार से बताते हैं।

Neeraj चोपड़ा ने Tokyo Olympic 2021 में 87.58 मीटर Javelin Throw (भाला फेंक) के साथ ही भारत की झोली में पहला गोल्ड मेडल डाल दिया हैं। नीरज चोपड़ा ने अपने प्रथम प्रयास में 87.03 मीटर, दूसरे में 87.58 और तीसरे प्रयास में 76.79 मीटर जैवलिन फेंका और इतिहास रच दिया। इस प्रतिस्पर्धा में दूसरे और तीसरे स्थान पर चेक देश के खिलाड़ी रहे।

इस तरह नीरज ने इंडिया का ओलंपिक में एथलेटिक स्पर्धा में भारत के लिए गोल्ड जीतने का पिछले 100 साल का इंतजार भी ख़तम कर दिया हैं। नीरज चोपड़ा की इस जीत के साथ ही भारत के टोक्यो ओलंपिक में 7 पदक हो गए हैं और यह इंडिया दुवार किसी एक ओलंपिक खेल में सबसे अधिक पदक लाने नया रिकॉर्ड हैं।

एक ही साल में एशियन गेम और कॉमनवेल्थ गेम में गोल्ड मेडल हासिल करने वाले नीरज चोपड़ा दूसरे खिलाड़ी हैं। इसके पहले साल 1958 में मिल्खा सिंह द्वारा यह रिकॉर्ड बनाया गया था।

जन्म एवं परिवार (Birth and Family):-

आर्मी मैन की इस उपलब्धि पर इंडियन आर्मी भी बहुत खुश हैं। क्योंकि नीरज चोपड़ा इंडियन आर्मी में राजपुताना रेजिमेंट में सूबेदार के पद पर हैं।नीरज की कहानी शुरू होती है उनके 24 दिसम्बर 1997 को हरियाणा के पानीपत में गांव खंडरा में एक किसान परिवार में जन्म लेने के साथ। उनके पिता श्री सतीश कुमार एक किसान हैं ,और उनकी माता श्रीमती सरोज देवी एक गृहणी हैं। बचपन में नीरज चोपड़ा काफी भारी भरकम थे। उनका वजन करीब 75 -80 किलो था। उनको गांव में उनके उपनाम सरपंच कहकर बुलाया जाता था।

Neeraj Chopra करियर भाला फेंक एथलीट (Javelin Throw Athlete):-

इन्होने अपना वजन काम करने के लिए भाला फेकना शुरू किया था। जो धीरे धीरे उनका पसंदीदा खेल बन गया। भाला फेक खिलाड़ी Neeraj Chopra ने सिर्फ 11 साल की उम्र में ही भाला फेंकना प्रारंभ कर दिया था।पहले वो पानीपत के स्टेडियम में ही अभ्यास करते थे। फिर वो अच्छी सुविधा के लिए पंचकुला शिफ्ट कर गए। यहाँ पर उनका सामना नेशनल खिलाड़ियों से हुआ। और उनके खेल में निखार आने लगा।

अपने सफर की शुरुवात 2012 में लखनऊ में आयोजित हुए अंडर 16 नेशनल जूनियर चैंपियनशिप में 68.46 मीटर भाला फेंक कर गोल्ड मेडल जीत कर किया था। इसके बाद नीरज चोपड़ा ने साल 2013 में नेशनल यूथ चैंपियनशिप प्रतियोगता में दूसरा स्थान हासिल किया। और फिर 2015 में नीरज चोपड़ा ने इंटर यूनिवर्सिटी चैंपियनशिप में 81.04 मीटर थ्रो फेंककर एज ग्रुप का रिकॉर्ड बनाया था।

दुनिया को उनके बारे में पहली बार तब पता चला जब उन्होंने 2016 में पोलैंड में वर्ल्ड अंडर -20 चैंपियनशिप प्रतियोगता में 86 .48 मीटर थ्रो के साथ एक नया जूनियर वर्ल्ड रिकॉर्ड बनाया था। इस तरह एथलेक्टिस की दुनिया में एक नए सितारे का उदय हो रहा था। नीरज चोपड़ा ने 2017 में एशियाई चैंपियनशिप प्रतियोगता को 85 .23 मीटर थ्रो करके गोल्ड मेडल जीता था। इसके बाद 2018 में दोहा में डायमंड लीग चैंपियनशिप प्रतियोगता में 88 .07 मीटर थ्रो करके राष्ट्रीय रिकॉर्ड बनाकर गोल्ड मेडल जीता था।नीरज चोपड़ा अभी 23 साल के हैं और उनकी नज़र 2024 के पेरिस ओलंपिक पर है।

Neeraj Chopra इंडियन आर्मी का करियर :-

इंडियन आर्मी में शामिल होना हर इंडियन के लिए गर्व की बात होती हैं। Neeraj Chopra के जीवन में यह गर्व का दिन 15 मई 2016 आया था। जब उनको उनकी काबिलियत देखकर सीधे नॉन कमीशंड अफसर नायक सूबेदार के पद पर नियुक्त किया गया था। आर्मी में उनको ओलम्पिक विंग आर्मी स्पोर्ट इंस्टिट्यूट पुणे में ट्रेनिंग के लिए चुना गया। ओलम्पिक विंग आर्मी ने इंडिया को सूटिंग चैंपियनशिप प्रतियोगता में 2 ओलम्पिक रजत पदक दिए हैं। Neeraj Chopra ने ओलंपिक में एक सच्चे सैनिक की तरह प्रदशन किया है। इस पर इंडियन आर्मी प्रमुख ने इस ऐतहासिक उपलभ्दी के लिए सभी रैंको को बधाई दिया हैं।

https://youtu.be/sZDqAnHtmMI

पदक सफर :-(Medal and Award):-

  • 2020 Tokyo Olympic 2021 में गोल्ड मेडल
  • 2018 एशियाई खेल चैंपियनशिप में गोल्ड मेडल
  • 2018 अर्जुन पुरस्कार
  • 2017 एशियन एथलेटिक्स चैंपियनशिप में गोल्ड मेडल
  • 2016 पोलैंड में वर्ल्ड अंडर -20 चैंपियनशिप प्रतियोगता में गोल्ड मेडल
  • 2016 साउथ एशियन एथलेटिक्स चैंपियनशिप में गोल्ड मेडल
  • 2013 राष्ट्रीय युवा चैंपियनशिप रजत पदक
  • 2012 राष्ट्रीय जूनियर चैंपियनशिप गोल्ड मेडल

FAQ

Q : नीरज चोपड़ा kis khel se sambandhit है ?
Ans : Javelin Throw (भाला फेंक) स्पर्धा में खेलते है।

Q : नीरज चोपड़ा की Height कितनी है ?
Ans : 5 फुट 10 इंच

Q : नीरज चोपड़ा ने इंडियन आर्मी कब ज्वाइन किया था ?
Ans : Neeraj Chopra ने इंडियन आर्मी मई 2016 में ज्वाइन किया था।

Q : नीरज चोपड़ा का ओलिंपिक 2021 का बेस्ट थ्रो कितना है ?
Ans : 87.58 मीटर

Q : जेवलिन थ्रो के लिए ओलंपिक रिकॉर्ड कितने का है ?
Ans : 90.57 मीटर

Q : नीरज चोपड़ा कहाँ के रहने वाले हैं ?
Ans : पानीपत ,हरियाणा के रहने वाले हैं।

अन्य लिंक्स :-

India National Flag ka history,importance Essay भारत राष्ट्रीय ध्वज इतिहास,महत्त्व,निबंध

How to send WhatsApp message without Typing

6 COMMENTS

  1. […] Neeraj Chopra आर्मी मैन से ओलंपिक गोल्ड मेडलिस… […]

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here