जानिए गाजर के फायदे व नुकसान के बारे -Learn about Pros and Cons of Carrots

187
Learn-about-Pros-and-Cons-of-Carrots
Learn-about-Pros-and-Cons-of-Carrots

Learn about Pros and Cons of Carrots

गाजर के लाभों की सर्वत्र सराहना की जाती है। इसलिए इसे सुपर फूड कहा जाता है। ज्यादातर मामलों में गाजर का उपयोग सलाद के रूप में किया जाता है। गाजर को पोलाओ और खिचड़ी के साथ मिलाकर भी बनाया जा सकता है. गाजर के अचार के अलावा हलवा भी बहुत ही स्वादिष्ट होता है.

जानिए गाजर के फायदे व नुकसान के बारे में-Learn about Pros and Cons of Carrots

Learn-about-Pros-and-Cons-of-Carrots

गाजर के पोषक तत्व –

Carrots विटामिन-ए, विटामिन-सी, विटामिन-के, विटामिन-बी, पैंटोथेनिक एसिड, फोलेट, पोटेशियम, आयरन और फाइबर से भरपूर होते हैं। प्रत्येक 100 ग्राम गाजर में 6275 माइक्रोग्राम बीटा-कैरोटीन, 41 किलोकैलोरी आहार ऊर्जा, 33 मिलीग्राम कैल्शियम, 12 मिलीग्राम फॉस्फोरस और 12 मिलीग्राम मैग्नीशियम होता है।

Carrots में विभिन्न औषधीय गुण होते हैं

गाजर प्रमुख राष्ट्रीय सब्जी हैं। यह वजन घटाने के लिए एक आदर्श भोजन है।

आइए जानते हैं गाजर खाने के कुछ फायदों के बारे में।- Learn about Pros and Cons of Carrots

कैंसर के खतरे को कम करने के लिए –

गाजर में Falcarinol और Falcarindiol होते हैं, जो हमारे शरीर के एंटीकैंसर घटकों को फिर से भर देते हैं। गाजर खाने से फेफड़ों का कैंसर, कोलोरेक्टल कैंसर और प्रोस्टेट कैंसर का खतरा कम होता है। पाचन के बाद कुछ भोजन हमारे शरीर में रह जाता है, जिसे फ्री रेडिकल्स कहते हैं। ये फ्री रेडिकल्स शरीर की कुछ कोशिकाओं को नष्ट कर देते हैं। ऐसे तत्वों को रोकने में गाजर बहुत कारगर होती है।

बढ़ी हुई दृष्टि {} – Carrots benefits for eyes

गाजर आंखों के रेटिना में बैंगनी रंग के पिगमेंट की संख्या को बढ़ाकर आंखों के उचित कार्य को बनाए रखने में मदद करती है। रतौंधी को दूर करने में गाजर बहुत उपयोगी होती है।

लीवर की समस्या दूर करे – cure liver problem

गाजर घुलनशील फाइबर से भरपूर होती है जो मल त्याग को उत्तेजित करके लीवर और कोलन को साफ करने में मदद करती है। दिन में एक गाजर खाने से लीवर में सूजन, सूजन और संक्रमण कम होता है। यह लीवर को हेपेटाइटिस, सिरोसिस और कोलेस्टेसिस जैसी समस्याओं से बचाता है। गाजर लीवर पित्त और जमी हुई चर्बी को कम करने में भी मदद करती है। यह शरीर के अतिरिक्त वजन को कम करने में प्रभावी भूमिका निभाता है।

एंटी-एजिंग के रूप में – as anti-aging

गाजर हमारे शरीर में एक एंटी-एजिंग तत्व के रूप में भी काम करती है। मेटाबॉलिज्म के कारण शरीर में क्षतिग्रस्त कोशिकाओं को रिपेयर करने में गाजर काफी असरदार होती है।

खूबसूरत त्वचा के लिए गाजर – Carrot for beautiful skin

गाजर त्वचा पर सनबर्न से राहत दिलाने में मदद करती है। गाजर के रस के नियमित सेवन से चेहरे के दाग-धब्बे और उम्र के निशान दूर होते हैं। साथ ही गाजर में मौजूद एंटी-बैक्टीरियल एजेंट रूखी त्वचा को रोकते हैं, जिससे त्वचा स्वस्थ और ताजी बनी रहती है।

एंटीसेप्टिक के रूप में कार्य करता है –

अगर कहीं कटी या जली हुई है तो वहां कटी हुई गाजर या उबली हुई गाजर का पेस्ट लगाएं। इससे संक्रमण का खतरा खत्म हो जाएगा।

मौखिक स्वास्थ्य देखभाल में गाजर – Carrots in oral health care

गाजर मुंह में लार का उत्पादन बढ़ाती है। जब हम गाजर खाते हैं तो हमारे मुंह में ‘सिल्वा’ नाम का कंपाउंड निकलता है। सिल्वा मुंह में एसिड बैलेंस बनाए रखता है और दांतों की सड़न के लिए जिम्मेदार बैक्टीरिया को नष्ट करता है। नियमित रूप से गाजर खाने से मसूड़े मजबूत होते हैं।

कान दर्द का उपाय – ear pain remedy

कान का दर्द अक्सर सर्दी-खांसी या किसी बीमारी के साइड इफेक्ट के कारण होता है। केला, गाजर, अदरक और लहसुन को एक साथ पानी में उबालकर 1-2 बूंद कान में डालने से इंशाअल्लाह का दर्द कम हो जाएगा।

एक एंटीऑक्सीडेंट के रूप में –

गाजर का रस शरीर में हानिकारक कीटाणुओं, विषाणुओं और विभिन्न प्रकार की सूजन के खिलाफ अच्छा काम करता है। गाजर खून को भी साफ करती है। दस्त को ठीक करने में गाजर का सूप बहुत उपयोगी होता है। गाजर अच्छे कृमिनाशक होते हैं। उच्च रक्तचाप को नियंत्रित करने के लिए गाजर में लहसुन की कुछ कलियां मिलाकर खाएं।

दिल की सुरक्षा में गाजर के फायदे – Benefits of carrots in protecting the heart

गाजर डायटरी फाइबर से भरपूर होती है। ये अवयव रक्त परिसंचरण को सामान्य रखते हैं और धमनियों पर कुछ भी जमा न होने देकर हृदय को स्वस्थ रखते हैं। गाजर में मौजूद अल्फा कैरोटीन और ल्यूटिन हृदय रोग के खतरे को कम करते हैं।

कोलेस्ट्रॉल नियंत्रण –

कोलेस्ट्रॉल और ब्लड शुगर को नियंत्रित करने के लिए गाजर बहुत अच्छी होती है। गाजर का जूस शरीर की चर्बी को कम करता है। साथ ही गाजर में मौजूद फाइबर कोलन को साफ रखता है और कब्ज से बचाता है। रक्त का मुख्य घटक गाजर लाल रक्त कोशिकाओं को लम्बा खींचता है। नतीजतन, रक्त में हीमोग्लोबिन का स्तर बढ़ जाता है। वहीं गाजर त्वचा में फायदेमंद कोलेस्ट्रॉल या लिपोप्रोटीन के स्तर को बढ़ाता है। गाजर का पोषण मूल्य हानिकारक कोलेस्ट्रॉल जारी करता है जो एथेरोस्क्लेरोसिस और स्ट्रोक के जोखिम को कम करता है।

मस्तिष्क की सुरक्षा में

फेफड़ों की कार्यक्षमता बढ़ाने के लिए

सांस की समस्याओं का समाधान

गाजर का हलवा बच्चों की बुद्धि विकसित करने में मदद करता है। और गाजर का रस तंत्रिका तंत्र को सुधारता है और दिमागी शक्ति को बढ़ाने में मदद करता है।

गाजर खाने के नुकसान – Disadvantages of eating carrots

जब एक अच्छे आहार के संबंध में अच्छे स्वास्थ्य का उल्लेख किया जाता है, तो सब्जियां आमतौर पर उन चीजों की सूची में उच्च होती हैं जिनका आपको सेवन करना चाहिए। गाजर एक आम सब्जी है और इसके कई स्वास्थ्य लाभ भी हैं, गाजर के कुछ ऐसे दुष्प्रभाव भी हैं जिनसे बहुत से लोग अनजान हैं।

इस लेख में, हमने कुछ अस्वास्थ्यकर प्रभावों को सूचीबद्ध किया है जो गाजर के सेवन से आपके शरीर पर पड़ सकते हैं।

एलर्जी –

कुछ लोग गाजर के प्रति अतिसंवेदनशील होते हैं और ऐसे लोगों में कुछ सामान्य दुष्प्रभाव त्वचा पर चकत्ते, दस्त, एनाफिलेक्टिक प्रतिक्रियाएं, पित्ती और सूजन हैं। ऐसी एलर्जी गाजर के पराग में मौजूद एलर्जेन के कारण होती है।

मधुमेह –

मधुमेह वाले लोगों को गाजर के सेवन से बचना चाहिए क्योंकि इसमें चीनी की मात्रा अधिक होती है। गाजर में मौजूद चीनी ग्लूकोज में बदल जाती है और इससे शरीर का शुगर लेवल तेजी से बढ़ जाता है। यदि आप मधुमेह रोगी के रूप में गाजर का सेवन करते हैं, तो सबसे अच्छा है कि उबली हुई गाजर का सेवन कम मात्रा में करें।

शिशुओं के लिए असुरक्षित –

कुछ अध्ययन साबित करते हैं कि गाजर छोटे बच्चों के लिए असुरक्षित हैं। इसलिए छोटे बच्चों को गाजर के छोटे हिस्से ही खिलाना जरूरी है।

कैरोटेनेमिया का कारण बनता है – Causes Carotenemia

गाजर में बीटा कैरोटीन का उच्च स्तर होता है, जो शरीर में विटामिन ए में परिवर्तित हो जाता है। गाजर के भारी सेवन से आपके रक्त में बड़ी मात्रा में कैरोटीन हो जाता है जो कैरोटेनेमिया का कारण बनता है जो त्वचा का पीलापन है।

अन्य लिंक्स :-

Why does food poisoning happen?- क्यों होता है फ़ूड पोइज़निंग

Facebook Messenger पर आएगा Sound इमोजी

2 COMMENTS

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here