Asthma Symptoms Causes Treatment In Hindi अस्थमा के घरेलु इलाज

469
asthma
asthma

Symptoms Causes Treatment In Hindi अस्थमा के घरेलु इलाज()

कुछ लोगों के लिए, अस्थमा एक मामूली परेशानी है।यही कुछ के लिए, यह एक बड़ी समस्या हो सकती है। अस्थमा फेफड़ो की एक बीमारी है, इससे ग्रसित को सांस लेने में परेशानी होती है। अस्थमा में आपके वायुमार्ग सूजकर संकीर्ण हो जाते हैं और अतिरिक्त बलगम का उत्पादन करते हैं। इससे साँस लेना मुश्किल हो सकता है और खाँसी, घरघराहट और सांस की तकलीफ होने लगती है।इसे ही अस्थमा अटैक कहते है।

About Asthma in Hindi

अस्थमा पूरी तरह से ठीक नहीं होता है।इसे नियंत्रित किया जा सकता है।कुछ घरेलु नुस्खे से भी इसे बहुत हद तकनियंत्रित किया जा सकता है। आप आवश्यकतानुसार उपचार के लिए अपने चिकित्सक की सलाह से इन घरेलु नुस्खे का प्रयोग कर सकते हैं।

अस्थमा के लक्षण ( ) :-

  • साँस फूलना
  • सीने में भारीपन
  • सांस लेने में तकलीफ या घरघराहट होना
  • साँस लेते समय सीटी की आवाज आना।
  • बेचैनी होना।
  • साँस लेने में कठिनाई होना।

अस्थमा होने के कारण ():-

  • वायु प्रदुषण
  • एलर्जी
  • श्वास नली में इन्फेक्शन
  • फेफड़ो में इन्फेक्शन

अस्थमा का घरेलु इलाज ():-

घरेलु इलाज के साथ उन चीजों से दूर रहे जो आपके अस्थमा को बढाती हैं।और जहाँ तक संभव हो उनसे बचकर रहे। जैसे धुआँ,स्मोकिंग,रसायनों आदि से दूर रहे।

अदरक :-

अस्थमा का इलाज में अदरक का इस्तेमाल सबसे अच्छा होता हैं। अदरक का रस और शहद को समान मात्रा में मिलकर1 चम्मच मिक्सचर को दिन में 2-3 बार ले सकते हैं। साथ में आप चाय में अदरक के साथ तुलसी के पते और लहसुन की एक कली डालकर पी सकते हैं।

लहसुन :-

लहसुन में कुदरती तोर पर फेफड़ो को साफ करने की छमता होती हैं। इसलिए अस्थमा में लहसुन का सेवन बहुत ही लाभदायक रहता हैं।
आप 250 ग्राम दूध में 2 से 3 लहसुन की कली डालकर उबाल ले। और इसे थोड़ा ठंडा होने पर प्रतिदिन एक गिलास का सेवन करे। इससे आपका अस्थमा जड़ से भी ठीक हो जाता हैं।

अंजीर :-

अंजीर के कुदरती तत्व श्वास नली में इन्फेक्शन को ठीक करने में मदद करते हैं। आप इसे रत में भिगाकर प्रतिदिन सुबह खा सकते हैं। इससे संक्रमण से राहत मिलती है और बलगम भी नहीं बनता हैं।

मेथी :-

मेथी बहुत सी बीमारियों का इलाज हैं। आप सर्दियों में इसके लाडू बनाकर इस्तेमाल करे। यह अस्थमा के साथ और भी कई तकलीफो से आपको आराम देता हैं।

हल्दी-दूध :-

हल्दी हमारी रसोई में मिलने वाला आम मसाला होता हैं। इसके गुण इतने हैं की यह खाने की हर चीज में इस्तेमाल होता हैं।आप इसे गाय केदूध में उबालकर रोजाना पी सकते हैं। यह प्रयोग अस्थमा के रोगी को बहुत ही लाभ देता हैं।

ऊपर बातये गए उपचार करने के साथ अपने डॉक्टर के संपर्क में जरूर रहे। इन उपायों के साथ अपने खान-पान में भी जरुरी बदलाव लाये। और उन कारणों से दूर रहे जो आपके अस्थमा रोग को बढ़ते हैं। आप ये घरेलु नुस्खे सभी को बताएं।इनके कोई साइड इफ़ेक्ट नहीं है। आप इनको जब चाहें इस्तेमाल कर सकते है। ये सभी उपाय अस्थमा के इलाज के साथ आपको बहुत से फायदे देंगे।

अन्य लिंक्स :-

Google Account डिलीट,रिमूव करने का तरीका

Social Mediaअकाउंट हैक कैसे होता है? हैक होने से कैसे बचायें

Nokia 110 4G Launched In India वॉयस कॉलिंग के साथ

New Realme C21Y Launched in India: Price, Specifications

2 COMMENTS

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here