“Army Officer”आर्मी ऑफिसर कैसे बने? जानिए पूरी जानकारी को

453
army-officer-kaise-bane
army-officer-kaise-bane

,

सेना को अंग्रेजी भाषा में Army कहा जाता है यह Army शब्द का उत्पत्ति लेटिन भाषा के armata शब्द से हुआ है जिसका अर्थ होता है armed force. यह ऐसी फौज होती है जो देश की सेवा करती है । इनमे पद श्रेणी अनुसार विभिन्न अफसर मौजूद होते है जो ‘ ’ कहलाए जाते है। आर्मी एक organization force होती है , जो जमीन पर रहकर देश की रक्षा करती है। Indian Army का मतलब है भारत की सेना जो कि भारत की तटीय सीमा की रक्षा करती हैं।

भारतीय सेना (Indian Army) में शामिल होकर देश सेवा का जूनून हर भारतवासी को होता है। देश के हर युवा के दिलों में भारतीय सेना (Indian Army) में नौकरी करने की तमन्ना होती है। हमारे देश में सेना की नौकरी को बहुत ही प्रतिष्ठित नौकरियों में से एक माना जाता है। आइए यहाँ हम Kaise Bane, आर्मी ऑफिसर बनने के लिए क्या करे, Army Officer Meaning In Hindi, Army Officer Kya Hota Hai, आर्मी ऑफिसर बनने का तरीका, Army Officer Kaise Bante Hain, आदि की सारी जानकारीयां बारी-बारी से जानते हैं।

आर्मी ऑफिसर कैसे बने? Army Officer Kaise Bane

army-officer-kaise-bane
army-officer-kaise-bane

आर्मी ऑफिसर के बारे में जानकारी – How to Become Army Officer

आर्मी ऑफिसर का पद आर्मी में काफी महत्वपूर्ण पद माना जाता है और जो व्यक्ति इस पोस्ट पर काम करता है, उसका काम काफी जिम्मेदारी वाला होता है। एक Army Officer अपने देश की रक्षा करने के लिए अपनी जान भी दे सकता है और दुश्मन देश के सैनिकों की जान ले भी सकता है। आर्मी ऑफिसर का सिलेक्शन सेना में कई प्रक्रिया को करने के बाद किया जाता है, ताकि सेना को एक अनुभवी Army Officer मिल सके और वह देश की सेवा कर सके।

आर्मी ऑफिसर बनने के लिए शैक्षिक योग्यता – Officer

आपकी जानकारी के लिए बता दें की जो भी भारतीय सेना में आर्मी ऑफिसर का पद पाना चाहता है या आर्मी ऑफिसर बनना चाहता है। वह इसके लिए बारहवीं कक्षा पास होना जरूरी है, तभी वह इंडियन आर्मी में Army Officer की पोस्ट के लिए अप्लाई कर सकता है। इसके अलावा उम्मीदवार का भारतीय नागरिक होना आवश्यक है।

आर्मी ऑफिसर बनने के लिए शारीरिक योग्यता –

आर्मी ऑफिसर बनने के लिए व्यक्ति के अंदर निम्न शारीरिक योग्यताएं होनी चाहिए।

  • आपके सीने की चौड़ाई कम से कम 77 सेंटीमीटर होनी चाहिए।
  • उम्मीदवार की हाइट कम से कम 157 सेंटीमीटर होनी चाहिए।
  • वजन 50 किलो या उससे ज्यादा होना चाहिए।
  • आंखें बिल्कुल स्वस्थ होनी चाहिए। उन्हें कलर ब्लाइंडनेस नहीं होनी चाहिए।
  • आर्मी ऑफिसर बनने के लिए उम्मीदवार को शारीरिक और मानसिक तौर पर मजबूत होना चाहिए।

उम्र सिमा (Age Limit)

इंडियन आर्मी बनने के लिए उम्मीदवार की उम्र कम से कम 18 साल और अधिकतम 25 साल के बीच होनी चाहिए। इसमें आरक्षित वर्ग के लोगों को उम्र सीमा में छूट दी जाती है।

आर्मी ऑफिसर कैसे बने? –

army-officer-kaise-bane
army-officer-kaise-bane

सबसे पहले 12वीं कक्षा को पास करे

सबसे पहले तो इंडियन आर्मी ऑफिसर बनने के लिए आपका 12वीं पास होना अनिवार्य है। और इसमें आप अच्छे मार्क्स लाये ताकि आपके लिए आगे जाएदा अच्छा हो सके वैसे कम से कम 50% मार्क्स होना चाहिए।

आर्मी की परीक्षा की जानकारी रखे

आवेदन करने के पश्चात परीक्षा तिथि निकाली जाती है। उस परीक्षा तिथि के दिन आपको परीक्षा देने जाना होता है। यदि आपके जानने वालों में किसी ने आर्मी की परीक्षा पास की है तो आप उनसे मिलकर और उनसे परीक्षा में पास होने के लिए कैसी क्वेश्चन आती है, यह चीज जानने का प्रयास अवश्य कर सकते हैं।

एग्जाम को पास करें

NDA यानी कि नेशनल डिफेंस एकेडमी की एग्जाम दो भागों में बांटी जाती है, जिसमें पहला भाग होता है गणित का और दूसरा भाग होता है सामान्य क्षमता का। इस परीक्षा के द्वारा इंडियन आर्मी में आर्मी ऑफिसर बनने की इच्छा रखने वाले व्यक्ति की तर्कशक्ति और उसके सामान्य जागरूकता का मापन किया जाता है।

मेडिकल टेस्ट पूरा करें

अगर आप इस टेस्ट को पास कर लेते हैं तो उसके बाद आपका मेडिकल टेस्ट होता है। मेडिकल टेस्ट मैं आपके ब्लड ग्रुप से लेकर कान, आंख, आवाज इत्यादि चीजों की टेस्टिंग की जाती है। अगर आपका कोई अंग फ्रैक्चर पाया जाता है तो भी आप सेना में भर्ती नहीं हो सकते। अगर आप पूर्ण रुप से मेडिकल टेस्ट में पास हो जाते हैं। तब आपको आगे के लिए बुलाया जाता है।

डॉक्यूमेंट वेरिफिकेशन पूरा करें

मेडिकल टेस्ट में पास होने के बाद आपको अपने डॉक्यूमेंट की जांच करवानी पड़ती है। डॉक्यूमेंट में आपके 10वीं और 12वीं की मार्कशीट, आपका कैरेक्टर सर्टिफिकेट, आपका फिजिकल फिटनेस सर्टिफिकेट, कास्ट सर्टिफिकेट, आवास सर्टिफिकेट की जांच की जाती है।

ट्रेनिंग पूरा करें

डॉक्यूमेंट वेरिफिकेशन कंप्लीट होने के बाद उम्मीदवार को ट्रेनिंग के लिए भारत के किसी भी ट्रेनिंग इंस्टिट्यूट में भेज दिया जाता है।

क्या है NDA परीक्षा का पैटर्न?()

एनडीए परीक्षा (NDA Exam) दो भागों में होती है- पहला लिखित परीक्षा और दूसरा एसएसबी इंटरव्यू (SSB Interview )। लिखित परीक्षा में दो पेपर होते हैं। पेपर 1 में मैथ, इंटीग्रल कैलकुलस और एनालिटिकल ज्योमेट्री से जुड़े 120 सवाल पूछे जाते हैं। वहीं, पेपर 2 में जनरल अवेयरनेस, इंग्लिश, फिजिक्स, केमिस्ट्री, करंट अफेयर्स, हिस्ट्री और जियोग्राफी से संबंधित 150 सवाल पूछे जाते हैं। दोनों को मिलाकर कुल 270 प्रश्न होते हैं, जो 900 नंबर के होते हैं. इसमें नेगेटिव मार्किंग होती है और इंटरव्यू क्लियर करना होता है।

army-officer-kaise-bane
army-officer-kaise-bane

आर्मी ऑफिसर बनने के फायदे

  • आप भारत के वीर सिपाही कहे जाएंगे।
  • इस नौकरी के तहत आपको ट्रेनिंग के दौरान अनुशासन और शिष्टाचार सिखाया जाता है जो कि आपके पूरे जीवन में आपको फायदा पहुंचाता है।
  • इंडियन आर्मी ऑफिसर बनने के बाद लोग आपको सम्मान की दृष्टि से देखेंगे।
  • इस क्षेत्र में नौकरी करने के बाद आपको आर्थिक सुरक्षा भी दी जाती है। अगर आप रिटायर हो जाते हैं तो भी आपको अन्य नौकरी मिलने का विश्वास दिया जाता है।
  • इसमें आप को सैलरी भी बहुत अच्छी खासी मिलती है, जिससे आप अपने परिवार की हर इच्छा पूरी कर पाएंगे।
  • साथ ही इसमें सैलरी के साथ-साथ आपको बीच-बीच में बोनस भी मिलते रहता है जो कि आपके आर्थिक क्रियाकलाप को ओर बढ़ाने में मदद करता है।
  • इंडियन आर्मी ऑफिसर बनने के बाद भी आप अपने उच्च शिक्षा के सपनों को साकार कर सकते हैं।
  • एक आर्मी ऑफिसर देश और देशवासियों की रक्षा करता है इसके बदले में फौजी और उसके परिवार को समाज में एक उच्च स्थान मिलता है यानी वह समाज में प्रतिष्ठित व्यक्ति के नाम से जाना जाता है, जो की अभी के समय में बहुत बड़ी बात है।
  • आर्मी ऑफिसर के बच्चों को केंद्रीय विद्यालय में खास तरजीह दी जाती है। फौजी और उनके परिवार के लोगों को मुफ्त चिकित्सा सुविधाएं दी जाती है। उच्च पदों के अधिकारियों को आवाज कार स्विमिंग पूल और गोल्फ कोर्स जैसी सुविधाओं का लाभ भी दिया जाता है।

आर्मी ऑफिसर का वेतन –

कमिशंड असफरों को अलग-अलग अलाउंस मिलते हैं। हालांकि, अलाउंस में मिलने वाले पैसों में काफी अंतर होता है। मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, कैश इन हैंड सैलरी भी काफी ज्यादा होती है। लेफ्टिनेंट को करीब 68,000 रुपये, कैप्टन को करीब 75,000 रुपये और मेजर को करीब 68,000 रुपये हर महीने सैलरी मिलती है।

कृप्या इसे भी जरूर पढ़े:-

Advocate कैसे बनें ? जानिए पूरी जानकारी – Advocate Kaise Bane

Indian Army ज्वाइन कैसे करे 2022- Indian Army Join Kaise Kare

आप अपनी पसंदीदा नौकरी कैसे ढूंढे – How to Find Your Dream Job in Hindi

पंजाब के शीर्ष 10 इंजीनियरिंग कालेज – Top Engineering Colleges in Punjab

Digital Marketing Kya hoti hai?

FAQ.

Q. आर्मी में जाने के लिए कितनी पढ़ाई चाहिए?

Ans. शैक्षिक योग्यता (Educational Qualification): कैंडिडेट का 10वीं और 12वीं में फिजिक्स, केमेस्ट्री और मैथ्स विषय का होना अनिवार्य है।

Q. किन प्रमुख दो परीक्षाओ द्वारा भारतीय सेना में ऑफिसर पद हेतू उम्मिद्वारो का चयन किया जाता है? 

Ans. राष्ट्रीय सुरक्षा अकादमी परीक्षा (NDA Exam) और कंबाइंड डिफेंस सर्विस परीक्षा (Combined Defense Service Exam)

Q. आर्मी की नौकरी कितने साल की होती है?

Ans. सेना के अधिकारी कर्नल 54 साल में, ब्रिगेडियर साल में 56, मेजर जनरल 58 तथा लेफ्टिनेंट जनरल 60 साल की उम्र में सेवानिवृत्त होते हैं।

1 COMMENT

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here